ईपीएल में मैनचेस्टर यूनाइटेड को हरा आर्सेनल ने दर्ज की पहली जीत

0
47
Mikel Arteta won

मैनेजर के रूप में आर्टेटा ने चखा जीत का स्वाद

जीवन में एक बार वह दिन जरूर आता है जब व्यक्ति ज़ीरो से हीरो बनता है। इसका एक उदाहरण है आर्सेनल के मिकेल आर्टेटा। मिकेल आर्टेटा को आर्सेनल के मैनेजर के रूप में अपनी पहली जीत हासिल करने के दौरान वह सब कुछ मिला, जो उन्होंने चाहा था। अमीरात स्टेडियम में गत दिवस को चल रहे फुटबॉल के मैच में आर्सेनल ने पहले 45 मिनट में ही मैच पर अपना नियंत्रण कर लिया, जिसके बाद उसने मैनचेस्टर युनाइटेड पर 2-0 से जीत हासिल की। निकोलस पेपे (आठवें मिनट) और सोक्राटिस पापास्ताथोपाउलोस (42वें मिनट) ने एक-एक गोल दागकर आर्सेनल की 16 मुकाबलों में दूसरी जीत सुनिश्चित की।

घर में लगभग 3 महीनों बाद जीती आर्सेनल

आर्सेनल की यह 87 दिनों में घर में पहली जीत है। इस जीत के साथ आर्टेटा की टीम इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) की तालिका में 10वें पायदान पर पहुंच गई है, जबकि पांचवें स्थान पर काबिज युनाइटेड के उससे चार अंक ज्यादा हैं। आर्सेनल के अब 21 मैचों में 27 अंक हैं, जबकि युनाइटेड के इतने ही मैचों में 31 अंक हैं। आर्सेनल का मैनेजर बनने के बाद यह आर्टेटा का सिर्फ तीसरा मैच था। इस मैच के बाद आर्टेटा ने कहा, ‘मैं प्रदर्शन से काफी खुश हूं और नतीजे से और भी ज्यादा खुश हूं। जो कुछ भी मैं मैदान पर देखना चाहता था, मैंने आज रात देखा।’

Mikel Arteta 1

आर्टेटा की टीम का संघर्षशील प्रदर्शन

कड़े मुकाबले में चेल्सी के खिलाफ रविवार को आर्टेटा के घरेलू पदार्पण मैच में आर्सेनल को प्रोत्साहित होने के संकेत मिले थे जहां 1-0 की बढ़त लेने के बावजूद अंतिम समय में उसे 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था। हालांकि, इस बार मेजबान टीम ने निराशा को पीछे छोड़ते हुए जिस तरह का सामूहिक प्रदर्शन दिखाया, उससे शीर्ष चार में जगह बनाने की उसकी संभावनाओं पर ताजा सवाल उठने लगे हैं। आर्टेटा ने आगे कहा, ‘इस समय हम पहले हाफ की तीव्रता के स्तर को बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। ऐसा होगा, लेकिन जिस तरह का उन्होंने लचीलापन दिखाया, वह वाकई मुझे पसंद आया। मुझे उन्हें एक साथ संघर्ष करते हुए देखना अच्छा लगा।’

ओजीएस की टीम को खली पॉल पोग्बा की कमी

जबकि दूसरी तरफ ओले गनर सोल्सकजेर की टीम युनाइटेड को पॉल पोग्बा की कमी खली। टखने की चोट से जूझ रहे पोग्बा का ऑपरेशन होना है, जिसकी वजह से उन्हें एक महीने के लिए बाहर बैठना पड़ेगा। इस चोट के कारण वह सत्र के ज्यादातर मैचों से बाहर रहे हैं। पोग्बा की गैरमौजूदगी में युनाइटेड की टीम जवाबी हमला करने के मौकों को भुनाने में असक्षम नजर आई और वे शुरुआत में ही पिछड़ने के बाद इससे उबरने में भी नाकाम रहे। सोल्सकजेर ने कहा, ‘पहला गोल दागने के बाद ऐसा लग रहा था कि उनमें ऊर्जा का संचार हो गया है। वे बेहतर टीम थे। वे आक्रामक थे। उन्होंने गेंद पर अपना कब्जा जमाए रखा और गेंद को उनके कब्जे से बाहर निकालना मुश्किल था।

Mauricio Pochettino-Mikel Arteta

पहली बार आर्सेनल ने शुरुआत से ही पेपे, पीयरे-एमरिक आयुबामेयांग, एलेक्जेंडर लैकेजेट और मेसुट ओजिल को एक साथ आक्रमण के लिए उतारा। आर्टेटा के इस फैसले का आठवें मिनट में ही असर देखने को मिला, जब पेपे ने अपना सिर्फ दूसरा प्रीमियर लीग गोल दागा। पहले हाफ में आर्सेनल का दबदबा रहा, जिसका फायदा उसे मध्यांतर से ठीक पहले एक बार फिर मिला। लैकेजेट के हेडर को डेविड डि गिया ने हाथ से रोक लिया, लेकिन सोक्राटिस ने गेंद को तेजी से नेट में पहुंचा कर आर्सेनल की बढ़त 2-0 कर दी, जो निर्णायक साबित हुई और आर्टेटा ने जीत की पताका फहरा दी।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here