धोनी के पैरा फोर्स के सम्मान को ICC ने नक्कारा

0
263
dhonee ke paira phors ke sammaan ko ichch ne nakkaara

महेंद्र सिंह धोनी की ‘बलिदान बैज’  धमक

वर्ल्ड कप 2019 के क्रिकेट मैच में धोनी ने अपने ग्लव्स पर ‘बलिदान बैज’ लगाकर पैरा फोर्स को सम्मान दिया पर आईसीसी ने उनके इस सम्मान को नक्कारते हुए हटाने को कहा|
भारत ने वर्ल्ड कप में अपना पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला। इस मैच के दौरान भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने ‘बलिदान बैज’ के चिह्न ग्लव्स पहन कर पैरा स्पेशल फोर्स को सम्मान दिया। इसपर इंटननेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने धोनी के ऐसे ग्लव्स पहनने पर आपत्ति जताते हुए बीसीसीआई से धोनी के विकेटकीपिंग ग्लव्स से ‘बलिदान बैज’ या पैरा स्पेशल फोर्स के रेजिमेंटल निशान को हटाने के लिए कहा है।

पैरा स्पेशल फोर्स ने 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक किया था।

गौरतलब है कि कपिल देव के बाद धोनी ही ऐसे दूसरे खिलाडी है जिन्हे 2011 में सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल के रैंक से नवाजा गया था| धोनी एक प्रशिक्षित पैरा ट्रूपर हैं, उन्होंने पैरा बेसिक कोर्स भी किया हुआ है| कहा जाता है कि बलिदान बैज’ के चिह्न का इस्तेमाल पैरा कमांडो के इलावा कोई और नहीं कर सकता। इसी पैरा स्पेशल फोर्स ने 2016 में पाक द्वारा कब्जा किये हुए कश्मीर (पीओके) में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक किया था।

 यूजर कर रहें है धोनी की तारीफ

इस ‘बलिदान बैज’ वाले ग्लव्स को भारतीय फैन्स ने खूब पसंद किया इसको देखकर ट्विटर पर यूजर्स ने MS धोनी की तारीफ की है एक यूजर ने लिखा, ‘धोनी ने देश और सेना के लिए अपने प्यार को दिखाया।’दूसरे यूजर ने स्पैशल धन्यवाद् करते हुआ लिखा कि ‘यही कारण है कि हम धोनी से प्यार करते हैं। हमारे सैन्य पैरा स्पेशल फोर्स के प्रति प्यार और समर्थन दिखाने के लिए आपका धन्यवाद।’

पाक मंत्री ने साधा निशाना

ये पैरा स्पेशल फोर्स आतंकवाद-रोधी और आतंकवाद विरोधी अभियान का हिस्सा होती है और ये भारत के लिए खुफिया जानकारी जुटाना और बंधक लोगो को छुड़वाना होता है| पैरा (एसएफ) के जवान महरून रंग की टोपी पहनते हैं, उनके दोनों कंधों पर स्पेशल फोर्स लिखा होता है। इनकी वर्दी की सीधी जेब के ऊपर नेम प्लेट के नीचे बलिदान बैज भी लगाते हैं। यह बैज सिर्फ पैरा कमांडो को लगाने की इजाजत है।
धोनी के दस्तानों पर तज कस्ते हुए पाक मंत्री फवाद हुसैन ने अपने ट्विटर पर लिखा, ‘क्रिकेट खेलने गए हैं महाभारत के लिए नहीं’ यहाँ मीडिया में भी इस मुद्दे को बहुत अधिक उछाला है|

अन्य खिलाडी आये धोनी के हक में 

इस सारे विवाद के बाद बड़ी संख्या में खिलाड़ी धोनी के समर्थन में आगे आये है। सरदार सिंह (पूर्व हॉकी खिलाड़ी) ,सुशील कुमार और ओलिंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त ने धोनी के हक में बोलते हुए कहा है कि भारतीय खिलाड़ियों के लिए बलिदान बैज पहनना सम्मान की बात है पर आईसीसी को इस तरह की सख्ती नहीं दिखानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here