एक बार फिर दिल्ली का सिकंदर – केजरीवाल

0
372
Thanks-Delhi-Arvind-Kejriwal

भाजपा के मंसूबों पर झाड़ू फेरते हुए एक बार फिर दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बन गई है। इसी जीत के साथ दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने जीत की हैट्रिक बना ली है। एक ऐतिहासिक जीत के बाद अरविंद केजरीवाल सरकार फिर से सत्ता में आ गई है। जिससे भाजपा का दिल्ली सरकार बनाने का सपना चूर चूर हो गया है। जबकि कांग्रेस पार्टी को एक भी सीट हासिल नहीं हुई।

एक ऐतिहासिक जीत

2015 के विधानसभा चुनावों में भी आम आदमी पार्टी ने 70 में से 67 सीटें जीत कर एक इतिहास रचा था। उस समय भी बीजेपी को सिर्फ 3 सीटें मिली और कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला था। इस बार भी एक ऐतिहासिक जीत के साथ 70 में से 62 सीटों में आम आदमी पार्टी दिल्ली वासियों के दिल में रही। लगातार दो बार 60 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल करने वाली यह पहली पार्टी है।

सबसे छोटी जीत-सबसे बड़ी जीत

नई दिल्ली विधानसभा क्षेत्र से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने विपक्ष पार्टी के प्रतिद्वंदी भाजपा नेता के खिलाफ 21600 स्थान में वोटों से जीत हासिल की। पटपड़गंज में भी उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अपने विपक्ष के भाजपा उम्मीदवार को 3207 वोटों से हराया। वहीं आम आदमी पार्टी से नाता तोड़ बीजेपी में शामिल हुई अलका लांबा को चांदनी चौक विधानसभा से करारी हार का सामना करना पड़ा और अलका लंबा की जमानत जब्त हुई। हार के बाद दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के सुभाष चोपड़ा ने हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस से अस्तिफा दे दिया। सबसे छोटी जीत बिजवासन विधानसभा से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार भूपेंद्र सिंह जून ने भाजपा नेता सत्यप्रकाश राणा को मात्र 753 वोटों के अंतर से जीत हासिल की। जबकि बुराड़ी विधानसभा से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार संजीव झा ने शैलेंद्र कुमार से 88158 वोटों के अंतर से सबसे बड़ी जीत हासिल की।

तिवारी के तेवर

दिल्ली प्रदेश के BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी ने हार मानते हुए कहा कि हम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए जिसके लिए सभी नतीजों का हम अच्छे से विश्लेषण करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि कार्यकर्ताओं ने कठिन परिश्रम किया जिसके लिए उनकी मेहनत को साधुवाद देता हूं। दिल्ली की जनता का निर्णय सिर माथे रखते हुए मैं अरविंद केजरीवाल को बधाई देता हूं। दिल को तसल्ली देते हुए मनोज तिवारी ने कहा कि पहले से हमारा आंकड़ा बढ़ा है हमें 2015 के मुकाबले वोट प्रतिशत ज्यादा मिले हैं।

लगा बधाई का तांता

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के चुनाव जीतने के बाद सोशल मीडिया, प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सब तरफ से बधाई का तांता लग गया। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अरविंद केजरीवाल को बधाई देते हुए कहा कि
“दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत के बाद आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को बधाई देता हूँ , मैं दिल्ली के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।”

ममता बनर्जी ने तज कसते हुए कहा कि आज भगवा पार्टी को करारा जवाब मिला है। पश्चिम बंगाल के 2021 में होने वाले विधानसभा चुनावों में भी भाजपा इसी तरह के परिणामों का सामना करेगी।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने “अरविंद केजरीवाल और आप को दिल्ली विधानसभा चुनाव जीतने पर बधाई और मेरी शुभकामनाएं” दी

पी चिदंबरम ने बधाई देते हुए कहा कि ” आप की जीत हुई बेवकूफ बनाने वाले और लंबी लंबी फेंकने वालों की हार हुई । दिल्ली के लोग जो भारत के सभी हिस्सों से हैं, उन्हें भाजपा का ध्रुवीकरण विभागीकर्ण और खतरनाक एजेंडे को हराया है। मैं दिल्ली के लोगों को सलाम करता हूं, जिन्होंने 2021 और 2022 में अन्य राज्यों में जहां चुनाव होंगे इसके लिए मिसाल पेश की है।

केजरीवाल ने किया शुक्रिया अदा

विधानसभा चुनावों की जीत के बाद आम आदमी पार्टी के प्रमुख व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जनता का धन्यवाद किया। दिल्ली स्थित पार्टी दफ्तर में अरविंद केजरीवाल ने भारत माता की जय का नारा लगाते हुए दिल्ली वालों ने गजब कर दिया दिल्ली वालों “आई लव यू” सब का शुक्रिया अदा करते हुए उन्होंने चुनाव से पहले जो जनता से वादे किए थे वह उसी तरह बरकरार रहेंगे।

16 फरवरी को दिल्ली के राम लीला ग्राउंड में अरविंद केजरीवाल फिर से मुख्यमंत्री की शपथ लेंगे। फ़िलहाल केजरीवाल सरकार के मंत्रिमंडल में कोई भी बदलाव नही किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here