महिला शिक्षकों के लिए आत्मरक्षा और मार्शल आर्ट प्रशिक्षण

0
198
Self-Defance-india-martial-arts

महिला शिक्षकों के लिए आत्मरक्षा और मार्शल आर्ट प्रशिक्षण आज से राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद एवं पुलिस विभाग के संयुक्त प्रयास से राज्य स्तर पर 96 शिक्षिकाओं को आत्मरक्षा तकनीकों का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद एवं पुलिस विभाग के संयुक्त प्रयास से राज्य स्तर पर 96 शिक्षिकाओं को आत्मरक्षा तकनीकों पर प्रशिक्षण दिया जा चुका है। संभाग स्तर पर हर एक ब्लॉक पर 4 शारीरिक शिक्षिकाओं को भी प्रशिक्षित किया जा चुका है।
अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक रंगलाल मील ने बताया कि अब 14 से 25 दिसंबर तक ब्लॉक स्तर पर सभी उच्च प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालय से एक शारीरिक शिक्षक को मास्टर ट्रेनर के रूप में गैर आवासीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण व मार्शल आर्ट प्रशिक्षण दिया जाएगा। स्कूलों में पीटीआई नहीं होने की स्थिति में महिला शिक्षिका को प्रशिक्षण दिया जाएगा।
यह प्रशिक्षण दिसंबर महीने में शीतकालीन अवकाश से पहले समाप्त किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर सभी स्कूलों में एक-एक शिक्षिका के प्रशिक्षण के बाद स्कूलों में बालिकाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस प्रशिक्षण के दौरान 40 से 50 के बैच बनाकर प्रशिक्षण होगा। 230 रुपए प्रतिव्यक्ति प्रतिदिन बजट का प्रावधान भी किया गया है। प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षण लेने वाले शिक्षकों को ट्रैक सूट व पीटी शूज में ही प्रशिक्षण लेना अनिवार्य होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here